GOOGLE Adsense incom(CPC &CTR) कैसे बढ़ाएं पूरी जानकारी हिंदी में।

Adsense<p>आजकल बहुत सारे ब्लॉगर अपने Blog से Google Adsense के जरिये पैसा कमा रहे हैं | कुछ Bloggers कम Website Traffic होने के बावजूद Adsense से बहुत ज्यादा कमाई करते हैं जबकि कुछ Bloggers की वेबसाइट पर अच्छा ट्रैफिक होने के बावजूद वे Adsense से अधिक नहीं कम पाते | Google Adsense CPC और CTR के हिसाब से आपको पैसे देता है इसलिए आपको अपनी CPC और CTR पर हमेशा नज़र रखनी चाहिए | CPC और CTR जितनी अधिक होंगी उतना ही अधिक पैसा आप अपने ब्लॉग से कमा सकते हैं | CPC और CTR बढ़ाने की कुछ Best Techniques हैं जिन्हें Follow करके आप भी अन्य सफल Bloggers की तरह ढेर सारा पैसा कमा सकते हैं | लेकिन Techniques को जानने से पहले आपको यह जान लेना चाहिए कि ये CPC और CTR आखिर हैं क्या?
CPC क्या है (What is CPC)?

CPC का Fullform Cost-Per-Click होता है | यह वह Amount है जो Google Adsense Advertisers से उनके Ad पर हुए Per-Click के हिसाब से प्राप्त करता है और उसमें से अपना हिस्सा काटकर आपको प्रदान करता है | CPC का कम या ज्यादा होना आपके Blog के Niche, Visitors का Region और Blog की गुणवत्ता जैसे कई Factors पर निर्भर करता है | उदाहरण के लिए Technology Niche वाले Blog की अपेक्षा News and Entertainment Niche वाले Blog की CPC बहुत कम होती है |
CTR क्या है (What is CTR)?

CTR का Fullform होता है Click-Through-Rate | आपके Blog पर आने वाले और Ad को देखने वाले Visitors में से कितने प्रतिशत Visitors ने Ad पर Click किया यही आपका Click-Through-Rate होता है | उदाहरण के लिए अगर आपके Blog पर आने वाले VIsitors में से 1000 Visitors ने किसी Ad को देखा और उनमें से 15 Visitors ने उसपर Click किया तो आपका CTR 1.5% होगा | इसको ज्ञात करने का Formula ‘ ( कुल Ad Clicks / कुल Impressions ) X 100 ‘  होता है |
Google Adsense से होनी वाली Income को बढ़ाने के लिए आपको सबसे पहले आपको अपने Blog पर आने वाले Traffic को बढ़ाना चाहिए | जितना अधिक लोग आपके ब्लॉग की पढेंगे उतना ही अधिक Ad clicks होने की संभावना बनती है और उसी प्रकार आपको पैसे भी प्राप्त होते हैं | हालाँकि कभी कभी अधिक Traffic वाले Blog कम ट्रैफिक वाले ब्लॉग की अपेक्षा कम पैसा कमा पाते हैं | ऐसा उनकी CPC और CTR के कम होने के कारण होता है | अगर आपके साथ भी ही ऐसा है तो आप CPC और CTR को बढ़ाने की Best Techniques को Follow करके अपनी CPC और CTR को बढ़ा सकते हैं –
Adsense Ads की Best Size और Location

आपके Blog पर दिखने वाले Ads की Size और Location CPC और CTR पर सबसे अधिक प्रभाव डालती है | Blog Post की शुरुआत में ही अपने Adsense Ads को Place करने से CTR और साथ ही साथ CPC Value में उल्लेखनीय बढ़त प्राप्त की जा सकती है | इसलिए हमेशा Ads को Post Title के ठीक नीचे, Post के शुरूआती और बीच के हिस्से में Place करना चाहिए क्योंकि अधिकतर लोग Posts को पूरा नीचे तक नहीं पढ़ते हैं इसलिए अधिक नीचे लगे Ads की CTR कम होती है | Adsense Ads की Ideal Size 480×60, 300×250, 160×600 आदि होती हैं | आपकी कोशिश यही रहनी चाहिए कि आप इन्ही Sizes का Ad अपनी Blog Post में प्लेस करें इससे आपकी CTR में बहुत सुधार होगा |
Organic Traffic to Increase Adsense CPC

Organic Traffic वह होता है जो सीधे Search Engine से आता है | Adsense Ads की CPC, Organic Traffic तथा Traffic Region पर भी काफी हद तक निर्भर करती है | Organic Trafic बढ़ाने के लिए आपको चाहिए कि आप अपने Blog को Best Suitable Keywords और Long-Tail Keywords का अच्छे से प्रयोग करके Search Engine के लिए Optimize करें | भारत के साथ साथ आप अपने Blog से USA का Traffic जोड़ने का प्रयास भी करें क्योंकि USA जैसे Developed देशों के ट्रैफिक से क्लिक होने पर CPC अधिक प्राप्त होती है | Organic Traffic से CTR भी काफी ज्यादा Increase होता है |
Blog की Performance 

आपके ब्लॉग की परफॉरमेंस भी आपकी CTR और CPC पर प्रभाव डालती है | Website Slow होने से आपके Blog के Traffic पर भी नकारात्मक प्रभाव पड़ता है | Blog की Performance Increase करने के लिए सबसे पहले तो आपको BlueHost, Hostgator जैसी एक अच्छी Hositing Service ढूंढनी चाहिए जिसका Server Fast हो | अपने Blog की speed fast करने के लिए Fast और Responsive Theme चुनें और W3 Total Cache Plugin का उपयोग करें|
एक Fast Website आपके ब्लॉग पर Traffic को बढाता है तथा Load-Time घटाता है | Load-Time कम होने से आपको अधिक CPC प्राप्त होती है |
Adsense Ads का Type और Color

Adsense में कई Type के Ads उपलब्ध हैं जैसे Image Ads, Text Ads और Link Ads | आपको Text और Image दोनों तरह के ऐड को अपने ब्लॉग के लिए चुनना चाहिए | साथ ही साथ आपको अपने Blog के Color के अनुसार Ads का Color भी निर्धारित करना चाहिए | उदाहरण के लिए अगर आपके Blog का बैकग्राउंड White है तो आपके Ad का Background भी White होना चाहिए | लेकिन अगर आप चाहें तो अन्य कोई रंग भी चुन सकते हैं पर एक ही Color चुनने से CTR और CPC Value बढ़ती है |
Category Blocking

Google Adsense में आप यह जान सकते हैं कि आपके Ads की कौन से Category कम पैसा दिला रही है? जिस Category में Impressions तो अधिक होते हों किन्तु CTR और CPC Value कम प्रदान करती है उसे आप आसानी से Block कर सकते हैं | Category Block करने से CTR और CPC पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है |
Google Search Box जोड़ें

अपने ब्लॉग में आप गूगल सर्च बॉक्स जोड़ें | यह Search Box आपके Blog पर प्रदर्शित होता है और जब भी कोई Visitor इसके द्वारा Search करता है तो यह Search results के साथ Ads भी दिखाता है | इन Ads पर Click होने की सम्भावना भी अधिक रहती है | जिससे इनका CTR अधिक होता है साथ ही साथ इन पर CPC Value भी अधिक प्राप्त होती है |
ऊपर दी गयी Google Adsense से कमाई बढ़ाने के 6 Techniques से आप अपनी CPC और CTR को उल्लेखनीय मात्रा में बढ़ा सकते हैं | जिससे आपके Blog से होने वाली आपकी कमाई भी बढ़ जाएगी | अगर आप अन्य कोई दूसरी Technique जानते हो जो इस लेख में शामिल न की गयी हो तो उसे Comment Box में लिखें | अगर आपके मन में कोई भी सवाल हो तो उसे हमारे सामने अवश्य प्रस्तुत करें | आपके सुझावों और सवालों का हमेशा स्वागत है |

Advertisements

हेलो दोस्तों! मेरा नाम भेरू सिंह है मेरे बारे में क्या बताऊँ छोटा मुह बड़ी बात is website par apko blogging,seo,adsense,android tricks and tips facebook triks milegi pasand aye to age bhi share karna

Tagged with:
Posted in GOOGLE ADSENSE
One comment on “GOOGLE Adsense incom(CPC &CTR) कैसे बढ़ाएं पूरी जानकारी हिंदी में।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

In Archive
%d bloggers like this: