is ladke ko mile 1lakh dolar collage chorne ke or company suru karne ke

Img Source TECH INSIDER

18 साल की उम्र में जब ज्यादातर बच्चे कॉलेज जाने की तैयारी में लग जाते है, वही ये लड़का जिसका नाम है George Matus जो Utah, western United States का रहने वाला है को मिले है 1 लाख डॉलर (करीब 66 लाख रूपये) कॉलेज छोड़ने के लिए और खुद की कंपनी शुरू करने के लिए |

George Matus दरअसल एक हाई-स्कूल ग्रेजुएट है जिसका बचपन का ज्यादातर समय उड़ने वाले खिलोनों के साथ छेड़छाड़ करते हुए बीता था | उसने 11 साल की उम्र में अपना खुद का उड़ने वाला ड्रोन बना लिया था और 16 साल की उम्र में पहली मेजर ड्रोन रेस जीती थी | इन सालों के दौरान उसने अपने “ड्रीम ड्रोन” के लिए काफी सारे नए फीचर के बारे में सोच रखा था | अंततः उसने इसे बनाने की ठान ली |

2015 में Stanford University hackathon में अपने ड्रोन की प्रदर्शनी के दौरान Matus की मुलाकात Thiel Fellowship के रिप्रेजेन्टेटिव से हुई |

Thiel Fellowship एक प्रोग्राम है जिसको टेक अरबपति Peter Thiel ने बनाया है | Thiel Fellowship प्रोग्राम में Matus को एक लाख डॉलर का ऑफर दिया गया जिसमे उसे कॉलेज छोडकर ड्रोन के क्षेत्र में कुछ नया बनाना था |

Img Source TECH INSIDER

Matus के अनुसार ये ऑफर मिलने पर उसमे उनसे पूछा “क्या में अपना हाई-स्कूल पूरा कर सकता हु?” तो उन्होंने कहा “रुको, क्या तुम सच में अभी हाई-स्कूल में हो?”

इसके बाद Matus ने प्रशाशन से परमिशन ली और आधा दिन कंपनी के लिए अपनी हाई-स्कूल की रोबोटिक्स लैब में कंपनी के काम करने लगा बाकि आधा दिन अपनी क्लासेज अटेंड करने में | इसके बाद अनुदान के तहत उसे अपनी टीम बढाने की इज़ाज़त मिली, उसे 3 फुलटाइम स्टाफ कर्मचारी और प्रोडक्ट डेवलपमेंट के लिए जरुरी रिसोर्सेज भी मिले |

अपनी मेहनत के कारण अब Matus को Teal कंपनी का सीईओ बना दिया गया है | Teal जो की consumer drone market में अपने ख़ास प्रोडक्ट quadcopter के कारण चर्चा में है, ये रेसिंग से लेकर वर्चुअल रियलिटी गेमिंग तक सबकुछ कर सकता है |

Matus का कहना है की ज्यादातर ड्रोन प्राइमरी यूज़, जैसे की फिल्म इंडस्ट्री में एरियल फोटोग्राफी, जहा इंसानों को जाने में खतरा हो वंहा निगरानी के लिए बनाए जाते है, लकिन वो नौसिखिया और प्रोफेशनल्स के लिए ड्रोन बनाना चाहता था | Matus का कहना है की वो सिर्फ उड़ता हुआ कैमरा नहीं बनाना चाहता |

Teal कंपनी का Teal aircraft एक स्वचालित और रिमोट कंट्रोल दोनों तरह से चलने वाला ड्रोन है | कोई यूजर इसे हवा में उछाल कर अपने बच्चो की निगरानी कर सकता है, या फिर इसे ट्रैक पर भेज कर दोस्तों के साथ रेसिंग कर सकता है |

इस ड्रोन में 4K कैमरा और इमेज रिकग्निशन टेक्नोलॉजी लगी हुई है, जिससे ये चेहरों को याद रख सकता है और उन लम्हों को रिकॉर्ड भी कर सकता जिनको आप याद रखना चाहते है | इसका ऑनबोर्ड प्रोसेसर काफी तेज़ी से डाटा का ट्रान्सफर करता है जिसका मुकाबला बहुत कम ड्रोन कर सकते है |

इसकी सबसे ज्यादा ख़ास बात है इसकी स्पीड, ये 0 से 60 मील प्रतिघंटे की स्पीड पर एक सेकंड में पहुच सकता है, जो इसे दुनिया का सबसे तेज़ और हल्का ड्रोन बनाती है | Matus का कहना है की इसने हाल ही की quarter-mile drag race में Tesla कंपनी के ड्रोन को धुल चटा दी थी |

ये ड्रोन केवल 10 मिनट के लिए उड़ सकता है और एक high-endurance battery जो अलग से बेचीं जाती है, का इस्तेमाल करके अतिरिक्त 20 मिनट की उड़ान भी भर सकता है |

Teal (जिसे पहले iDrone नाम से भी जाना जाता था) के लिए Matus का पहला consumer product जिसे वो “smartphone of drones” कहता है को प्री-आर्डर के तहत 1299 डॉलर में बुक करवा सकते है जो साल के अंत तक डिलीवर होना शुरू होगा |

Utah की खुली जगहों पर अपने इन्वेस्टर्स से मीटिंग करते हुए आप Matus को आसानी से ढूंढ सकते है, वही करते हुए जो वो करना चाहता है – ड्रोन उड़ाना | Matus का कहना है की ये सब उसे अपना पसंदीदा काम लगता है|

Matus का वीडियो भी आप देख सकते है |

Advertisements

हेलो दोस्तों! मेरा नाम भेरू सिंह है मेरे बारे में क्या बताऊँ छोटा मुह बड़ी बात is website par apko blogging,seo,adsense,android tricks and tips facebook triks milegi pasand aye to age bhi share karna

Tagged with:
Posted in INTERESTED. FACT

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

In Archive
%d bloggers like this: